खूबसूरत वादियों से भरा लोनावला और खंडाला

भारत देश अपने खूबसूरत और ऐतिहासिक दार्शनिक स्थलों के लिए बेहद मशहूर है। महाराष्ट्र में स्थित दो खूबसूरत हिल स्टेशन ऐसे हैं जो अपनी खूबसूरती और आकर्षक गुफाओं की वजह से संपूर्ण विश्व में बेहद मशहूर है। जी हां आज हम आपको लोनावला और खंडाला के वर्चुअल टूर पर ले कर जाने वाले हैं। मुंबई से पुणे की ओर जाते समय रास्ते में खंडाला हिल स्टेशन सबसे पहले आता है तथा पूना से मुंबई की ओर वापस आते समय लोनावला हिल स्टेशन पहले आता है। लोनावला और खंडाला में सबसे ज्यादा अधिक दर्शनीय और आकर्षक स्थल कारला गुफाएं, भाजा की गुफाएं, बेडसा की गुफाएं आदि मौजूद हैं। तो चलिए प्रारंभ करते हैं लोनावला और खंडाला की खूबसूरत यात्रा….।

महाराष्ट्र में मौजूद एक छोटा सा हिल स्टेशन खंडाला जो बेहद शांत और अपनी सुंदरता के लिए जाना जाता है। खंडाला में मौजूद आश्चर्यचकित गुफाएं और उन में बनी हुई कलात्मक शैली वाली कलाकृतियां बेहद आकर्षक है। साथ ही लोनावला भी अपने प्राकृतिक दृश्यों और आकर्षक गुफाओं की वजह से प्रारंभ से ही पर्यटकों का आकर्षक केंद्र बना रहा है।

लोनावला और खंडाला में घूमने की मशहूर और खूबसूरत स्थल

लायंस प्वाइंट:- लोनावला की सबसे खूबसूरत जगहों में से सबसे पहला नंबर लायंस प्वाइंट का आता है जो लोनावला रेलवे स्टेशन से 12 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। पर्यटकों के लिए यह बेहद आकर्षक और खूबसूरत जगह है क्योंकि यह स्थान भूसी डैम और आम्बी वैली के बीच में स्थित है।

भुशी डैम:- एक खूबसूरत सीढ़ी नुमा नजारा जहां पर बहता हुआ पानी पर्यटकों को बेहद आकर्षित करता है। लोनावला की अमराही नदी पर बना हुआ यह बांध पर्यटकों के लिए फोटो खिंचवाने का एक सबसे बेहतरीन पॉइंट है। पानी के बहाव का आनंद लेने के लिए बांध की सीढ़ियों पर लोग घंटों बैठे रहते हैं और समय बिताना पसंद करते है।

आंबी घाटी:- महाराष्ट्र के पुणे जिले में लोनावला से लगभग 24 किलोमीटर की दूरी पर आंबी घाटी नाम की एक सुंदर बस्ती मौजूद है। जो बेहद मनभावन और आकर्षक है आंबी वैली जाने के लिए पर्यटक इसी बस्ती से होकर गुजरते हैं।

वलवन झील - कुंडली नदी पर बना हुआ यह एक कृत्रिम झील है

lonavala lake, lonavala dam, tata lake, lonavala

लोनावला लेक - लोनावला शहर में ही लोनावला लेक स्थित है

भैरवनाथ मंदिर:- लोनावला में मौजूद भैरवनाथ मंदिर राजमाची में स्थित है जिसकी पूरी वास्तुकला और डिजाइन कोकण क्षेत्र में स्थित शिव मंदिरों के समान है। भोलेनाथ का यह खूबसूरत मंदिर दर्शकों के लिए बेहद आकर्षक स्थल है।

एकवीरा मंदिर:- लोनावला में स्थित एकवीरा देवी मंदिर कालरा गुफा के पास ही मौजूद है। छोटी सी पहाड़ी पर बना यह खूबसूरत मंदिर पर्यटकों को खूब लुभाता है।

श्री नारायणी धाम मंदिर:- त्योहारों पर इस मंदिर में खूब रौनक लगाई जाती है क्योंकि यह मंदिर नारायणी धाम मां नारायणी को समर्पित है जिसका निर्माण साल 2002 में हुआ था। यह मंदिर सफेद पत्थरों से बनाया गया है इसलिए यह बेहद प्रसिद्ध मंदिर है।

एडवेंचर बूंगी जंपिंग:- जिन लोगों को एडवेंचर से बहुत ज्यादा प्यार है वह लोनावला में जाकर बूंगी जंपिंग का मजा ले सकते हैं। 150 फीट की ऊंचाई पर बने इस स्थान पर उपकरण की मदद से नीचे कूदने की अनुमति दी जाती है। जो लोग कुछ हटकर गतिविधि करना चाहते हैं वह इस पॉइंट पर जाकर आनंद का अनुभव कर सकते हैं।

इमैजिका:- बच्चों के मनोरंजन और खेल कूद के लिए लोनावला का सबसे प्रमुख और आकर्षक केंद्र एडलैब्ज इमैजिका थीम पार्क है जिसकी स्थापना 2013 में हुई थी। महाराष्ट्र के लोकप्रिय मनोरंजक थीम पार्क में से एक यह थीम पार्क बेहद आकर्षक है।

पावना झील:- बांध के कृत्रिम पानी से निर्मित यह कृत्रिम झील लोनावला के बाहरी इलाके में स्थित है। पर्यटकों के लिए बेहद खूबसूरत और आकर्षक स्थानों में से एक पावना झील का यह स्थान भी है जो लोनावला और लोहागढ़ किले से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। पिकनिक स्पॉट के लिए सबसे बेहतर स्थान पावना झील ही है।

सेलिब्रिटी वैक्स म्यूजियम:- मुंबई और पुणे हाईवे के पास सेलिब्रिटी वैक्स म्यूजियम मौजूद है जहां पर देश-विदेश के बहुत बड़े बड़े सेलिब्रिटी का मोम का पुतला बनाया गया है। इस म्यूजियम में आपको नरेंद्र दास मोदी, अमिताभ बच्चन, अटल बिहारी वाजपेई, आइंस्टाइन, माइकल जैक्सन आदि बड़े-बड़े नामचीन हस्तियों के वैक्स के पुतलों के साथ फोटो खिंचवा सकते हैं।

डेल्ला एडवेंचर पार्क - डेल्ला एडवेंचर पार्क अपने आप में एक अनूठा पार्क है जहाँ हर तरह से मनोरंजन की समुचित व्यवस्था है|

कुने वाटरफॉल्स - कुने वाटरफॉल्स भी यहाँ आने वाले पर्यटकों में काफी लोकप्रिय है |

khandana shooting point, rajmanchi garden, khandala

राजमची किला और पार्क :- मुंबई पुणे एक्सप्रेसवे पर स्थित राजमची गार्डन से आप खंडाला घाटी के मनोरम दृश्य के आनंद ले सकते हैं साथ में राजमची किला से भी खूबसूरत नजारा देख सकते हैं|

खंडाला शूटिंग पॉइंट - खंडाला शूटिंग पॉइंट हमेशा से ही फिल्म शूटिंग के लिए फिल्म निर्माताओं का पसंदीदा जगह रहा है अभी तक सैकड़ों फिल्मों की शूटिंग यहाँ हो चुकी है|

किलो की सैर:- यदि आप भारत के इतिहास को जानना चाहते हैं और महाराष्ट्र में बने किले और उनकी कलाकृतियों को देखना चाहते हैं तो आप लोनावला से खंडाला के बीच मौजूद सुंदर किलो में जाकर ऐतिहासिक सभ्यता का भी आनंद ले सकते हैं। इनमें कुछ प्रमुख तिकोना किला, लोहगढ़ फोर्ट, तुंग किला आदि बेहद मशहूर है।

पर्यटकों के आराम के लिए यहां पर बहुत से रुकने के लिए स्थान भी बने हुए हैं जैसे विश्रामगृह, धर्मशाला, सैनिटोरियम, स्टैंडर्ड होटल आदि। लोनावला और खंडाला के आसपास मौजूद हरियाली पर्यटकों को बेहद आकर्षित करती है इस क्षेत्र के आसपास के पर्वतीय श्रृंखला भी इसे और ज्यादा खूबसूरत बनाने का काम करती है। बारिश के मौसम में यहां का मौसम बेहद सुहावना रहता है इसलिए अप्रैल से अगस्त का महीना पर्यटकों के लिए घूमने का बेहद उचित समय है।

लोनावाला और खंडाला के आसपास मौजूद 10 बेहतरीन रेस्टोरेंट

क्रीम डल्ला, पीएनएफ रेस्टोरेंट एंड बार, P18 नाइट क्लब एंड लॉन्च, पारसी ढाबा, स्पोर्ट्स बार, कैफे 24 डेला रिजॉर्ट्स, श्री दत्त स्नैक्स, रामा कृष्णा, चंद्रलोक, डचेस रेस्टोरेंट, अन्नपूर्णा रेस्टोरेंट| लोनावाला और खंडाला के बीच आपको सत्य से लेकर एक से बढ़कर एक हाई-फाई रेस्टोरेंट मिल जाएंगे जहां पर आप हर प्रकार के भोजन का आनंद भी उठा सकते हैं।

लोनावला का स्थानीय भोजन

लोनावला में आपको कई प्रकार के व्यंजन चखने के लिए मिल जाएंगे। यहां आने वाले सैलानी हमेशा ही इन मजेदार भोजन का स्वाद चखने के लिए आतुर रहते हैं। कुछ मजेदार भोजन मसालेदार वडा पाव और भजिया, छोले भटूरे, रामकृष्ण का मक्खन, कपूर का ठगना, पारंपरिक शाकाहारी महाराष्ट्रीयन थाली, पेड़ा, और मूंगफली एवं अन्य मेवा के दानों को मिलाकर बनी हुई चिक्की। लोनावला में सबसे मशहूर चिक्की व्यंजन है जिसे पर्यटक खाना बेहद पसंद करते हैं।

लोनावला और खंडाला घूमने का सही समय

अक्टूबर से लेकर मई के महीने तक लोनावला का मौसम बेहद सुहावना और मनभावन होता है। इस समय में यहां पर पर्यटकों की भरमार होती है। खासकर मानसून का मौसम यहाँ पीक सीजन होता है| बारिश के इस लुभावने मौसम में पर्यटक यहां के सभी स्थानों को घूमना और तस्वीरें खींचना बेहद पसंद करते हैं।

ऐसे और भी मजेदार स्थानों को घूमने और उनके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्राप्त करने के लिए बने रहे नारद.भारत के साथ।

लेखिका का परिचय

मैं चारु, मुझे बचपन से ही भारत की संस्कृति से बहुत लगाव है भारत की संस्कृति के बारे में जानना भारत के विभिन्न स्थानों पर घूमना मुझे बहुत पसंद है। मैं भारत के अब तक बहुत सारे स्थानों की यात्रा कर चुकी हूं मेरा अनुभव सिर्फ यही कहता है कि भारत एक ऐसा देश है जो इस पृथ्वी पर सबसे ज्यादा खूबसूरत है। आरंभ से ही पढ़ाई लिखाई में रुचि होने के कारण मैं बड़े होकर एक अध्यापिका बनी। मुझे लेख लिखने का भी बहुत ज्यादा शौक था इसीलिए आज मैं एक लेखिका भी हूं आज मै बहुत सारी ज्ञानवर्धक वेबसाइट के लिए विभिन्न प्रकार के लेख लिखना पसंद करती हूँ।

यदि आप किसी विषय में रुचि रखते हैं और उस विषय के बारे में हमें अपने विचारों को व्यक्त करना चाहते हैं और अपने विचारों को हमारे इस नारद.भारत वेबसाइट में पब्लिश कराना चाहते हैं तो आप अपने द्वारा लिखे गए सूचनाबद्ध लेख हमें भेज सकते हैं। हम आपके नाम और आप के चित्र के साथ उस लेख को अपने नारद.भारत में अवश्य पब्लिश करेंगे। भविष्य में यदि आप किसी भी विषय से जुड़ी जानकारी को लेकर हमारे नारद.भारत से जुड़ना चाहते हैं तो आप हमें सीधे ही कांटेक्ट कर सकते हैं।

  • नारद - एक परिचय
    नारद - एक परिचय

    देवर्षि नारद के बारे में आपने पुराणों में सुना होगा। देवर्षि नारद जी को समाचार के देवता के नाम से भी जाना जाता है ब्रह्मा जी के पुत्र थे। हिंदू शास्त्र में बताए गए कथनों के अनुसार ब्रह्मा जी के

    और पढ़ें »

  • रक्षाबंधन, rakshabandhan
    रक्षाबंधन

    रक्षाबंधन का नाम सुनते ही प्रत्येक भाई - बहन को अपार खुशी मिलती है। पूरे भारतवर्ष में हिंदू लोग रक्षाबंधन के त्यौहार को बड़ी ही हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं। रक्षाबंधन का दिन आने के

    और पढ़ें »

  • नारद - एक परिचय
    कृष्ण जन्माष्टमी

    आज हम बात करने वाले हैं कृष्ण जन्माष्टमी की। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से कृष्ण जन्माष्टमी के विषय में संपूर्ण जानकारियां ( कृष्ण जन्माष्टमी और दही हांडी क्या

    और पढ़ें »